BED VS BTC NEWS TODAY LIVE🔴 बीएड अभ्यर्थी प्राथमिक शिक्षक भर्ती में होंगे शामिल व्यापक धरने का पड़ा सीधा असर क्या सरकार तैयार करवाएगी नया मसौदा

BED VS BTC NEWS TODAY LIVE🔴 बीएड अभ्यर्थी प्राथमिक शिक्षक भर्ती में होंगे शामिल व्यापक धरने का पड़ा सीधा असर क्या सरकार तैयार करवाएगी नया मसौदा ?

BED VS BTC NEWS TODAY LIVE

22-08-2023 Live Update :  B.ed और बीटीसी मामले को लेकर माननीय उच्च न्यायालय छत्तीसगढ़ में माननीय सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के मद्देनजर B.ed वालों को भर्ती में शामिल करने से रोक दिया है इसके साथ ही माननीय उच्च न्यायालय के द्वारा राज्य सरकार को अंतिम सुनवाई से पहले इस संबंध में कोई भी कदम उठाने से रोक लगा दी है इसके संबंध में आधिकारिक नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है

 

BED VS BTC NEWS बीएड बीटीसी मामले को लेकर छात्रों ने सुप्रीम कोर्ट का फैसला 11 अगस्त 2023 को बीएड अभ्यर्थियों को प्राथमिक शिक्षक भर्ती में शामिल करने से रोकने के खिलाफ छात्रों का व्यापक धरना 17 अगस्त 2023 को किया गया जिसके बाद इस धरने को लेकर विभिन्न राजनीतिक दलों विभिन्न मीडिया चैनलों के द्वारा बड़े पैमाने पर कवर किया गया जिसके बाद छात्रों को बिहार शिक्षक भर्ती की तरफ से आयोजित होने वाली 24 अगस्त से 26 अगस्त के बीच परीक्षा में बीएड अभ्यर्थियों को प्राथमिक शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल होने को लेकर बीपीएससी चेयरमैन का बड़ा बयान सामने आ गया है

बीपीएससी चेयरमैन की तरफ से कहा गया है कि छात्र बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल हो सकते हैं बीएड अभ्यर्थियों को प्राथमिक शिक्षक भर्ती में शामिल होने से अभी बिहार शिक्षक भर्ती बोर्ड ने रोक नहीं लगाई है जिसके बाद विभिन्न मीडिया चैनलों तथा कई टीचरों की तरफ से यह बयान दिया गया कि छात्रों को बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल होना चाहिए जिसकी मुख्य वजह है यह निकल कर आई थी एनसीटीई की तरफ से अभी तक कोई भी नोटिफिकेशन जारी नहीं किया गया ऐसे में टीचरों का यह कहना है कि छात्रों को किसी भी परीक्षा को छोड़ने का कोई मतलब नहीं बनता ऐसे में छात्रों को सभी परीक्षा में शामिल होकर अपनी परीक्षा को देनी चाहिए क्योंकि अगर भविष्य में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ कोई नया अध्यादेश या कानून संसद से पास होता है तो छात्रों को इसका सीधा लाभ मिलेगा अगर छात्र भर्ती परीक्षा में शामिल ही नहीं होंगे तो उनको भविष्य में अगर कोई बदलाव किए गए तो वह उन सभी भर्ती परीक्षाओं से बाहर हो जाएंगे

ऐसे में सीबीएसई की तरफ से सीटेट परीक्षा का आयोजन 20 अगस्त 2023 को किया जा रहा है जिसमें सीबीएसई ने सीटेट परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों के एडमिट कार्ड जारी कर दी है यह एडमिट कार्ड 18 अगस्त 2023को सीबीएससी की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी कर दिए गए जिन भी छात्रों के एडमिट कार्ड सीबीएसई की तरफ से जारी किए गए सभी अभ्यर्थियों को परीक्षा में शामिल होना चाहिए B.Ed के प्राथमिक के एडमिट कार्ड जारी किए हैं छात्रों को सीटेट परीक्षा में शामिल होकर इस परीक्षा को देनी चाहिए ऐसे बयान कई बड़े टीचरों की तरफ से देखने को मिल रहे हैं

B.Ed बीटीसी मामले को लेकर क्या है ताजा अपडेट

B.Ed बीटीसी मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में गिरा अगस्त 2023 को पूरी कर ली गई थी उसके बाद 46 पढ़ने का जजमेंट सुप्रीम कोर्ट की तरफ से 11 अगस्त 2023 को जारी कर दिया गया था जिसके बाद बीएड अभ्यर्थी सीटेट के प्राथमिक सर्टिफिकेट पूरी तरह से अमान्य घोषित हो गए थे जिसके बाद छात्रों ने 17 अगस्त 2030 को बड़े पैमाने पर धरना प्रदर्शन का आयोजन किया इसके साथ ही छात्रों ने केंद्र सरकार और राज्य सरकार के विभिन्न विभागों में ज्ञापन देकर अपनी बात पहुंचाई है 

B.ed बीटीसी मामले को लेकर बड़ी बैठक एनसीटीईऔर शिक्षा मंत्रालय की होने वाली थी जो कि 17 अगस्त को नहीं हो सकी B.ed और बीटीसी मामले की बड़ी बैठक एनसीटी और शिक्षा मंत्रालय जल्द आयोजित करने जा रहा है जिसमें यह फैसला लिया जाएगा कि B.ed और बीटीसी मामले में उचित हो सकता है क्योंकि एनसीटीई की तरफ से कोई भी नोटिफिकेशन अभी तक बीएड अभ्यर्थियों को लेकर जारी नहीं किया गया जिससे बीएड अभ्यर्थियों में असमंजस की स्थिति बनी हुई है ऐसी स्थिति में किस को लेकर के द्वारा जल्द ही बड़ी बैठक का आयोजन करके इस मामले का निर्णय लिया जाएगा इसके साथ ही अंकित जी की तरफ से नोटिफिकेशन जारी करके बीएड अभ्यर्थियों को शामिल करना और नहीं करने को लेकर जानकारी ताजा की जाएगी जब तक एमसीटीई की तरफ से नोटिफिकेशन जारी नहीं किया जाता तब तक बीएड अभ्यर्थी प्राथमिक शिक्षक भर्ती तथा सीटेट प्राथमिक जैसी परीक्षाओं में शामिल होकर अपनी परीक्षा को दें ऐसे बयान लगातार कई बड़े कोचिंग संस्थानों की तरफ से दिए जा रहे हैं 

B.Ed बीटीसी मामले में एनसीटीई की बैठक कब होगी

B.Ed बीटीसी मामले को लेकर एनसीटी की बैठक का आयोजन 17 को 2030 को शाम होने जा रहा था जिसको विभिन्न सोशल मीडिया हैंडल के माध्यम से वायरल किया गया है लेकिन यह बैठक 17 अगस्त 2023 को संपन्न नहीं हो सकी 17 अगस्त 2023 को सिटी का एक 26 पेज का नोटिफिकेशन वायरल किया गया जो किसी मामले से जुड़ा हुआ नहीं था

लेकिन आपको बता दें एनसीटीई की बैठक आज और कल आयोजित की जा सकती है NCTE की बैठक में एनसीटीई और शिक्षा मंत्रालय की साझा बैठक होने जा रही है जिसमें B.ed और बीटीसी मामले को लेकर कोई बड़ा फैसला लिया जा सकता है लेकिन छात्र यह मांग कर रहे हैं कि सुप्रीम कोर्ट की तरफ से आए B.Ed मामले में केंद्र सरकार अध्यादेश लाकर बीएड अभ्यर्थियों को प्राथमिक शिक्षक भर्ती में शामिल करें ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा कि एनसीटीई B.ed अभ्यर्थियों को लेकर क्या निर्णय लेती है 

बीएड अभ्यर्थी प्राथमिक शिक्षक भर्ती से कहां-कहां हुए बाहर

बीएड अभ्यर्थियों को प्राथमिक शिक्षक भर्ती से केंद्रीय विद्यालय संगठन ने बाहर कर दिया है क्योंकि केंद्रीय विद्यालय संगठन की तरफ से आयोजित शिक्षक भर्ती में बीएड अभ्यर्थियों को यह कहकर शामिल किया गया था कि बीएड अभ्यर्थियों का रिजल्ट सुप्रीम कोर्ट के फैसले के अधीन रहेगा ऐसे में केंद्रीय विद्यालय संगठन मध्य प्रदेश शिक्षा विभाग ने बीएड अभ्यर्थियों को प्राथमिक शिक्षक भर्ती से बाहर कर दिया है लेकिन बिहार शिक्षक भर्ती में ऐसा कोई शर्त लागू नहीं थी जिस वजह से बिहार शिक्षक भर्ती में B.Ed भर्ती प्राथमिक शिक्षक भर्ती में शामिल हो सकते हैं लेकिन बिहार शिक्षक भर्ती में शामिल होने वाली बीएड अभ्यर्थियों को नौकरी दी जाएगी या नहीं इसका निर्णय एनसीटीई के नोटिफिकेशन जारी करने के बाद बिहार सरकार की तरफ से लिया जाएगा 

B.Ed के 22000 शिक्षकों पर मंडराया खतरा

उत्तर प्रदेश शिक्षा विभाग में 69000 शिक्षक भर्ती का आयोजन एनसीटीई 2018 के गजट को जारी करने के बाद किया गया था जिसके बाद उत्तर प्रदेश शासन ने 69000 शिक्षक भर्ती में बीएड अभ्यर्थियों को शामिल किया था जिसमें लगभग 22 हजार से ज्यादा शिक्षकों का चयन प्राथमिक शिक्षक भर्ती में हुआ था इसके साथ ही इन शिक्षकों के चयन के साथ यह शर्त रखी गई थी कि इनको 2 वर्ष के अंदर शिक्षक बनने की ब्रिज कोर्स करना अनिवार्य होगा लेकिन 69000 शिक्षक भर्ती प्रक्रिया को 2 वर्ष से ज्यादा का समय बीत चुका है ऐसे में 69000 शिक्षक भर्ती में शामिल व्यक्तियों की नौकरी में खतरा मंडराने लगा है क्योंकि अभी तक इन शिक्षकों का ब्रिज कोर्स नहीं करवाया गया

ब्रिज कोर्स को लेकर जब मीडिया पत्रकार ने शासन के बड़े अधिकारियों से पूछा तो उन्होंने बताया कि एनसीटीई ने ब्रिज कोर्स का अभी तक कोई भी फॉर्मेट जारी नहीं किया है ऐसे में ब्रिज कोर्स में क्या पढ़ाया जाएगा किन विषयों पर जोर रहेगा इसकी जानकारी अभी तक सामने नहीं आई है जिस वजह से अभी तक ऐसे शिक्षकों का ब्रिज कोर्स नहीं कराया जा सका ब्रिजपोर्ट को लेकर यशी ने गाइडलाइन जारी की थी लेकिन ब्रिज कोर्स कहां से होगा फोन कर आएगा और इसमें क्या पढ़ाया जाएगा इसको लेकर अभी तक कोई भी विस्तृत जानकारी साझा नहीं की गई इस वजह से ऐसे में चयनित शिक्षकों के लिए ब्रिज कोर्स का आयोजन कहां किया जाए इसकी जानकारी सामने नहीं आई है इस वजह से चयनित शिक्षकों का नहीं कराया जा सका ऐसे में चयनित शिक्षकों की नौकरी में भी खतरा मंडराने लगा है

 

Social Media Handdle Important Link
Facebook Join Now
Whatsapp Join Now
Telegram Join Now
error: Only Read Content Not a Copy