Digital Advertising : डिजिटल एडवरटाइजिंग से घर बैठे कमाए लाखों रुपए यहां जाने क्या होती है डिजिटल एडवरटाइजिंग

Digital Advertising : डिजिटल एडवरटाइजिंग से घर बैठे कमाए लाखों रुपए यहां जाने क्या होती है डिजिटल एडवरटाइजिंग

Digital Advertising

Digital Advertising क्या है? यह कितने प्रकार की होती है?

दोस्तों आज से 5 -10 साल पहले जब भी किसी कंपनी को अपने किसी प्रोडक्ट या फिर किसी भी सर्विस के बारे में एडवर्टाइजमेंट करवाना होता था ,तो उन्हें टेलीविजन या फिर न्यूज़पेपर के माध्यम से ही यह काम करना होता था।लेकिन बदलते समय के साथ हमारा इंडिया आज डिजिटल हो चुका है ऐसे में आजकल डिजिटल तरीके से एडवरटाइजिंग की जाती है। ऐसे बहुत सारे लोग हैं जिनको डिजिटल एडवरटाइजिंग के बारे में इतनी जानकारी नहीं है तो आज की इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताएंगे की “Digital Advertising” क्या है? यह कितने प्रकार की होती है?

डिजिटल एडवरटाइज़िंग क्या है-(What is Digital Advertising in Hindi)

डिजिटल एडवरटाइजिंग को अगर हम सरल भाषा में समझे तो इसका मतलब होता है कि ऑनलाइन तरीके से किसी भी प्रोडक्ट या फिर सर्विस का प्रमोशन करना। डिजिटल एडवरटाइजिंग करने के लिए मार्केट के अंदर बहुत सारे तरीके मौजूद है आप किसी भी तरीके का इस्तेमाल करके डिजिटल एडवरटाइजिंग कर सकते हैं। डिजिटल एडवरटाइजिंग के तरीके में पेड़ लिंक्स, बैनर ऐड , सोशल मीडिया पोस्ट्स, ईमेल मार्केटिंग, वीडियो ऐड , और सर्च इंजन मार्केटिंग शामिल हो सकते हैं।इसका मुख्य उद्देश्य ग्राहक को एक पर्टिकुलर सर्विस या ब्रांड, के बारे में जागरूक करना और उन्हें उसे खरीदने के लिए आकर्षित करना है।

डिजिटल एडवरटाइजिंग कैसे काम करता है -(How Does Digital Edvertising Work)-

डिजिटल एडवरटाइजिंग किसी भी ब्रांड या फिर सर्विस का ऑनलाइन प्रमोशन करने के लिए सबसे बेस्ट तरीका माना जाता है। लेकिन बहुत सारे लोगों को नहीं पता होता है कि आखिर डिजिटल एडवरटाइजिंग किस तरह से काम करता है तो आपकी जानकारी के लिए बता दें की मुख्य रूप से डिजिटल एडवरटाइजिंग के लिए मार्केटर्स के द्वारा एक टारगेट सेट किया जाता है कि उनको अपने किस प्रोडक्ट का प्रमोशन करना है उसके लिए उन्हें किस तरह की ऑडियंस की आवश्यकता होगी यह सब चीजे पहले से ही डिसाइड कर ली जाती है। एक बार सही से प्रोडक्ट या फिर सर्विस का चुनाव करने के बाद उसके लिए ऐड तैयार किया जाता है जो किसी भी फॉर्मेट में हो सकता है उदाहरण के लिए ऑडियो या फिर वीडियो।इसके अलावा मार्केटस ऐड बनाते समय उसके अंदर कुछ ऐसी चीज भी ऐड करते हैं ताकि यूजर्स के अंदर सस्पेंस क्रिएट किया जा सके।

डिजिटल एडवरटाइज़िंग के प्रकार -(Types Of Digital Advertising In Hindi)-

जब से एडवरटाइजिंग के लिए डिजिटल तरीके का इस्तेमाल किया जाने लगा है तब से एडवरटाइजिंग के फील्ड में बहुत बड़ा बदलाव आया है और डिजिटल एडवरटाइजिंग आप एक ही तरीके से नहीं कर सकते हैं इसके बहुत सारे फॉर्मेट मे की जा सकती है तो चलिए जानते हैं कि आखिर डिजिटल एडवरटाइजिंग के कितने प्रकार होते हैं और किस तरह से काम करते हैं –

(1)डिस्प्ले एडवरटाइज़िंग (Display Advertising )

डिस्प्ले एडवरटाइजिंग डिजिटल मार्केटिंग का एक प्रकार है जिसमें आप वेबसाइटों पर बैनर, इमेज, टेक्स्ट, और मल्टीमीडिया ऐडस को प्रदर्शित करके अपने प्रोडक्ट और सर्विस का प्रमोशन करते हैं। यह ऐडस वेबसाइटों के विभिन्न भागों पर प्रदर्शित होते हैं, जैसे कि वेब पेजों के ऊपर, बीच में, या निचे वाले हिस्सों मे।डिस्प्ले एडवरटाइजिंग का मुख्य उद्देश्य यूजर्स को ब्रांड, प्रोडक्ट , या सर्विसेज के बारे में जानकारी देना होता है, ताकि वे आपकी वेबसाइट पर जाकर अधिक जानकारी प्राप्त कर सके।

डिस्प्ले एडवरटाइजिंग के लिए अलग अलग तरह के ऐडस फॉर्मेट्स होते हैं, जैसे कि स्टैटिक इमेज बैनर, गिफ्स, वीडियो ऐड , शामिल है।

डिस्प्ले एडवरटाइजिंग का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप इसकी मदद से अपने ग्राहकों के साथ बड़ी आसानी से अटैच हो जाते हैं।आज के समय में बड़ी-बड़ी कंपनियां डिस्प्ले एडवरटाइजिंग के माध्यम से बहुत अच्छा सेल जनरेट कर रही है।

(2)ब्रांड एडवरटाइजिंग (Brand Advertising)

डिजिटल एडवरटाइजिंग का दूसरा प्रकार ब्रांड एडवरटाइजिंग है इसका इस्तेमाल आज के समय में बहुत ज्यादा किया जा रहा है इसकी मदद से आप टारगेटेड ऑडियंस के साथ कनेक्ट हो सकते हैं और अपने ब्रांड की एक अलग पहचान बना सकते है।

(3)सोशल मीडिया एडवरटाइजिंग (Social Media Advertising )

सोशल मीडिया एडवरटाइजिंग का इस्तेमाल सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफार्म के माध्यम से किया जाता है।इसकी मदद से प्रमोशनल कंटेंट, और अन्य मार्केटिंग तरीको का इस्तेमाल कम्पनिया अपने टारगेट को पूरा करती है। इसके जरिये सोशल मीडिया प्लेटफार्म्स जैसे कि Facebook, Instagram, Twitter, LinkedIn, YouTube पर अलग-अलग फॉर्मेट के अंदर एड रन किए जाते हैं।

(4)इंट्रेएक्टिव एडवरटाइजिंग (Interactive Advertising)-

इंटरैक्टिव एडवरटाइजिंग का मुख्य फोकस यूजर्स को किसी तरह से ऐड के साथ जोड़ना होता है इसके लिए किसी भी तरीके का इस्तेमाल किया जाता है क्यूंकि ऐड को कुछ इस तरीके से डिजाइन किया जाता है और उसमें कुछ ऐसी चीज ऐड की जाती है जिसके बाद पहले ही नजर के अंदर यूजर्स उस एडवर्टाइजमेंट के प्रति आकर्षित हो जाता है।

उदाहरण के लिए अपने यूट्यूब पर भी ऐसे बहुत सारे ऐड देखे होंगे जिसमें आपको लुभाने का प्रयास किया जाता है आपको कुछ ऐसी चीज बताई जाती है जिसको सुनकर आप भी सामने वाले की सर्विस का इस्तेमाल करने से खुद को रोक नहीं पाते हैं।

(5)सर्च एडवरटाइज़िंग(Search Advertising)-

सर्च एडवरटाइजिंग को सर्च इंजन मार्केटिंग के नाम से भी जाना जाता है इस तरह के एडवर्टाइजमेंट आपको सामान्य तौर पर सर्च इंजन नतीजो वाले वेबसाइट के पेज पर देखने को मिलते हैं।इसका फार्मेट टेक्स्ट फॉरमैट होता है जो ऑर्गेनिक शॉपिंग रिज़ल्ट के ऊपर या उसके साथ दिखाई देता है।

डिजिटल एडवरटाइजिंग के फायदे -(What is Benefits Of Digital Advertising)-

डिजिटल मार्केटिंग आज के समय में सबसे अच्छा विकल्प माना जाता है और सबसे ज्यादा डिजिटल एडवर्टाइजमेंट का इस्तेमाल किया जाता है। डिजिटल एडवरटाइजिंग के बहुत सारे फायदे होते हैं तो चलिए जानते हैं कौन-कौन से फायदे इसमें शामिल है –

  • डिजिटल एडवरटाइजिंग का सबसे पहला फायदा यह है कि इसमें जो कॉस्ट आता है वह अन्य एडवर्टाइजमेंट के तरीके से बहुत ही कम होता है।
  • इसके अलावा डिजिटल एडवरटाइजिंग की मदद से आप एक टारगेटेड ऑडियंस तक पहुंच पाते हैं।
  • डिजिटल एडवरटाइजिंग की मदद से आप अपने ऑडिन्स की एक्टिविटी को ट्रैक कर सकते हैं जिससे आपको अपने कैम्पेन को समझने और सुधारने का अवसर मिलता है।
  • इंटरैक्टिव एडवरटाइजिंग के माध्यम से आप अपने ग्राहकों के साथ अच्छी बॉन्डिंग बना सकते है।
  • डिजिटल एडवरटाइजिंग की मदद से आप अपने ब्रांड की पहचान पूरी दुनिया भर में बना सकते है।
  • अगर आप सामान्य तौर पर किसी न्यूज़ पेपर में एडवर्टाइजमेंट निकलवाते हैं तो उसमें काफी समय लग जाता है लेकिन डिजिटल एडवरटाइज़िंग का लीड टाइम बहुत कम होता है, ऐड बनने के लगभग तुरंत बाद उसे किसी वेबसाइट पर दिखाया जा सकता है।

Conclusion

उम्मीद करते हैं दोस्तों आपको हमारी आज की यह पोस्ट “Digital Advertising क्या है? यह कितने प्रकार की होती है?” से जुड़ी जानकारी पसंद आई होगी।

Examcrack is a Educational And Job Related Information Blog-My Name Is Deepak Kumar The information given here is taken from Google search and reliable websites. This blog has been created to help you. I have two years of experience in the field of blogging.

CLOSE ADVERTISEMENT
error: Only Read Content Not a Copy